Domain name kya hai. what is domain in hindi.

हेल्लो दोस्तों... आज इस पोस्ट पर हम domain क्या है। इस topic पर पूरे विस्तार से बात करेंगे। बहुत सारे लोग जब blog create करते हैं। तब उन्हें अपने blog का मनपसंद नाम नहीं मिल पाता है। या यूं कहें तो जिस नाम से वह अपना ब्लॉग चाहते हैं। उस नाम का blog URL उन्हें नहीं मिल पाता। तो वो Google में यह search करते हैं कि blog URL कैसे change करते हैं। क्योंकि उन्हें नहीं पता कि blog URL change करने के लिए, ब्लॉग में custom domain add करना पड़ता है। हालांकि domain, URL का बस एक हिस्सा है, पर मुख्य हिस्सा है।
what-is-domain-in-hindi-domain-kya-hai
domain name kya hai. domain kitne type ki hoti hai. Free domain vs paid domain me konsa behtar hai. इन सब के बारे में विस्तार से बात करेंगे। पहले ये बताते हैं कि what is domain ?

Domain name क्या है (what is domain name in hindi)

बिना डोमेन के, एक website की कल्पना करना नामुमकिन है। क्यूंकि डोमेन ही website का main address होता है। जिस तरह हर चीज का एक पता होता है। जिसके जरिये हम उस जगह पर आसानी से पहुँच जाते है। जहाँ का address हमें मालूम होता है। जैसे कि gmail address होता है। जिससे हम अपने massage को किसी भी email के address पर भेजे। तो वो massage direct उस email address पर ही पहुचता है। उसी तरह domain भी हमारी site का main address होता है। domain name को DNS (Domain Naming System) भी कहते हैं। ये एक ऐसा नाम होता है। जिससे internet पर किसी भी website की पहचान आसानी से की जाती है। हर website का background कोई न कोई IP Address (Internet Protocol Address) से जुड़ा होता है। और ये जो IP Address होते हैं। वो numerical address होते हैं। और यही नंबर्स, browser को बताते हैं कि internet में वो website कहाँ पर मौजूद है। तो जाहिर सी बात है। नंबर्स को याद रखना मुश्किल है और नाम को याद रखना आसान है। तो domain name, किसी भी IP Address का easy version है। जिसे इंसान आसानी से याद रख सकते हैं। Website link, website URL और website address तीनों एक ही चीज के नाम है। और हर जगह domain use होता है। किसी भी वेबसाइट की URL में आप जो .com, .net और .org देखते हैं। इसे ही domain name कहते हैं।


आप एक नाम का एक ही डोमेन ले सकते हैं। जैसे - अगर आपने website.com नाम का डोमेन ले लिया। तो दोबारा website.com नहीं ले सकते। पर website.org ले सकते हैं।

Domain name work कैसे करता है।

जब आप किसी भी browser के URL baar में किसी वेबसाइट का URL add करते हैं। तो domain आपके website host (जिस server में आपकी वेबसाइट store की गई है) उसे सूचित करता है कि यह व्यक्ति इस Host IP address website को देखना चाहता है। और तब जाकर आपके ब्राउज़र में कोई भी साइट खुल पाती है।

Domain के प्रकार (types of domain)

Domain name कई तरह के होते हैं।
  1. Subdomain
  2. Custom domain
  3. Paid domain
  4. Free domain
  5. Top level domain
  6. Country level domain
Subdomain हमें website builder की तरफ से मिलता है। जैसे कि अगर आप wapka से वेबसाइट क्रिएट करते हैं। तो उसमे जो आपको .wapka.mobi, .wapka.me और .wap-ka.com select करना होता है। वो subdomain ही है। उसी तरह blogger से वेबसाइट क्रिएट करने पर, .blogger.com subdomain ही है। इसी तरह हर website builder अपने खुद के नाम वाले subdomain provide करती है।
अपने वेबसाइट के लिए जब हम अलग से domain register कर के website में park करते हैं। उसे ही custom domain कहते हैं। यानी कि subdomain को replace करने वाला डोमेन, custom domain कहलाता है।

Paid domain उसे कहते हैं। जिसका इस्तेमाल आप बिना खरीदे नहीं कर सकते। और हर डोमेन का अलग-अलग prise होता है। ये prise domain provider के ऑफर में बदलता रहता है। paid domain की list कुछ इस तरह है। 
  • .com
  • .in
  • .net
  • .org
  • .gav
  • .get
  • .edu
  • .mil
  • .co.in
  • .tv
  • .info
  • .co
  • .biz
Free domain आप मुफ्त में इस्तेमाल कर सकते हैं। Freenom website ऐसी है। जो आपको free domain provide करती है। लेकिन आप इसे खरीद भी सकते हैं। यह आप पर depend करता है कि आपको domain, free चाहिए या paid ?  Free domain name की list कुछ इस तरह है।
  • .tk
  • .ml
  • .ga
  • .cf
  • .gq

TLD (Top label domains)

Top level domain name को internet के शुरुआती दौर में इज़ाद किया गया था। इसे (Internet Domain Extension) के नाम से भी जाना जाता है। यह SEO friendly domain होते हैं। क्योंकि यह डोमेन world wide काम करते हैं। और हर domain name का, एक अपना मतलब होता है। जैसे .com का मतलब commercial होता है और .net का मतलब network होता है।
  • .com (commercial)
  • .net (Network)
  • .org (organization)
  • .gov (government)
  • .edu (educational)
आप अपने blog के कंटेंट के हिसाब से कोई भी top level domain का इस्तेमाल कर के blog को high rank दिला सकते हैं।

Google Search Console Me Preferred Domain Save Kaise Kare. Full Method.
CCTLD (Country Code Top Level Domains)
Country level domain किसी एक देश को target करके बनाया गया है। ये किसी भी देश के दो अक्षरों (Two Letter ISO CODE) से बनाया है। जैसे कि india के लिए .in और australia के लिए .au नाम है। यह डोमेन जिस भी देश का होता है। उस देश में आपकी website को अच्छी rank दिलाने में help करता है। लेकिन बाकी के देशों में हो सकता है कि साइट की rank घट जाए।
  • .in (India)
  • .gb (great Britain)
  • .au (Australia)
  • .us (United state America)
  • .ch (Switzerland)
  • .cn (China) 
  • .ru (Russia) 
  • .br (Brazil)
Free vs Paid Domain, join join behtar:
बहुत लोगों के दिमाग में यह सवाल हमेशा ही आता है कि कौन सा domain बेहतर है, free domain या paid domain ? यह सवाल लाज़मी भी है। क्योंकि अगर कोई blog बनाता है। तो अपने फायदे के लिए ही बनाता है। बहुत सारे blogger कहते हैं कि free domain website को adsense approved नहीं करता है। पर मेरी website में भी free domain लगा हुआ है। और आप देख सकते हैं कि मेरी वेबसाइट में adsense ads लगे हुए हैं। तो क्या बाकी के bloggers गलत बोलते हैं ?

Domain Renew Kaise Kare. Freenom Website Se Free Domain TK Ko Renew Kare.

नहीं। उनका कहना बिल्कुल सही है। लेकिन एक बहुत बड़ा कंफ्यूजन है यहां पर। वह कहते हैं कि free domain में AdSense account approved नहीं होते। लेकिन फ्री डोमेन का मतलब क्या है यहां पर ?
  • Subdomain
  • Custom free domain
subdomain और custom domain का मतलब हमने आपको बता दिया है। free custom domain का मतलब, अलग से फ्री डोमेन Park करना है। बाकी के blogger जो free domain के बारे में बात करते हैं। असल में वह सब sabdomain के लिए कहते हैं। क्योंकि अगर custom free domain पर adsense approved नहीं होता। तो मेरे blog पर adsense के ads नहीं लगे हुए होते। तो ये मायने नहीं रखता कि custom domain, free है या paid. मायने ये रखता है कि आप डोमेन खरीद सकते हैं या नहीं। अगर नहीं खरीद सकते। तो आपके लिए बेहतर है कि आप custom free domain इस्तेमाल करें।
वैसे कई सारे subdomain वाले websites में भी adsense approved हुआ है। इसलिए इस चीज की कोई guarantee नही दी जा सकती कि free domain website पर adsense approved नहीं होता।
तो दोस्तों इस पोस्ट में आपने ये जाना कि domain kya hai. What is domain in Hindi. हमने पूरी कोशिश की है। आपको सब कुछ विस्तार से समझाने की। अगर domain से जुड़ी कोई जानकारी रह गई हो। तो कमेंट में हमे बताएं। ताकि हम उसे इस पोस्ट में लिख सके।
Domain name kya hai. what is domain in hindi. Domain name kya hai. what is domain in hindi. Reviewed by Hansa Juhi Rani on March 16, 2018 Rating: 5

2 comments

  1. Apne tk hi kyu chuna ml f ye San kyu nahi kya apko lagta hai ki tk SEO ke liye Jada acha hai
    Maine bhi Apne site pr lagaya tha but mujhe fono domain me kuch alag SEO effect Laga AAP ke hisabh se konsa better hai tk or CF aur kyu

    ReplyDelete
    Replies
    1. Jab hamne ye website create ki thi. Tab ye .TK top free domain tha or bahut populer bhi tha. Or is waqt iske sath koi problem nahi thi. Lekin aaj ke time me kuchh problem aa rahi hai. Agar apko .TK or .CF me koi antar malum pada hai. To ap uske bare me bataye. Taki apka experience, dusro ke kam aaye.

      Delete

Comment approval milne ke baad dikhai dega. Comment karte waqt "Notify me" par ✔ laga de. Isase apko mere reply ka notification gmail address par mil jayega.